blogid : 19157 postid : 1367069

महाभारत की वो 10 जगह, जिन्हें कलियुग में जाना जाता है इन नामों से

Posted On: 11 Nov, 2017 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

महाभारत हमेशा से रहस्य से भरी कहानियों और पात्रों के लिए लोकप्रिय रही है. इसमें वर्णित न जाने कितनी ही ऐसी कहानियां हैं जिससे हमें कुछ न कुछ सीखने को अवश्य मिलता है. देखा जाए तो महाभारत से जुड़ी हुई जगहों और पात्रों को आज भी याद किया जाता है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि महाभारत काल से जुड़ी हुई जगहों के आज क्या हालात हैं. आइए हम आपको बताते हैं.


uttarkhand

हस्त‌िनापुर

महाभारत में सबसे ज्यादा महत्व हस्त‌िनापुर को द‌िया गया है, क्योंक‌ि पूरी कहानी हस्त‌िनापुर के इर्दग‌िर्द ही घूमती है. हस्त‌िनापुर के ल‌िए ही महाभारत का युद्ध हुआ था. यह स्‍थान वर्तमान में मेरठ शहर के पास है.


hastinapur


तक्षशीला

तक्षशीला जो महाभारत काल में गंधार प्रदेश राजधानी थी. कौरवों की माता गंधारी गंधार के राजा शुबल की पुत्री थी. कथा है क‌ि यहीं पांडवों के वंशज जनमेजय ने अपने प‌िता परीक्ष‌ित की सांप काटने से मृत्यु के बाद क्रोध‌ित होकर सर्पयज्ञ का आयोजन क‌िया था ज‌िसमें हजारों नाग जलकर भष्म हो गए थे. ये जगह आज पाकिस्तान के रावलपिंंडी में है.


takshila


उज्‍जान‌िक

महाभारत में ज‌िस उज्‍जान‌िक नामक स्‍थान का ज‌िक्र क‌िया गया है वह वर्तमान काशीपुर है जो उत्तराखंड में स्‍थ‌ित है. यहां पर गुरु द्रोणाचार्य ने कौरवों और पांडवों को श‌िक्षा द‌िया था. यहां स्‍थ‌ित द्रोणसागर झील के बारे में कहा जाता है क‌ि पांडवों ने गुरु दक्ष‌िणा के तौर पर इस झील का न‌िर्माण क‌िया था.


ujjanak


वारणावर्त

महाभारत में वारणावर्त का ज‌िक्र क‌िया गया है. यह वही स्‍थान है जहां कौरवों ने लाक्षागृह में पांडवों को जलाकर मारने का प्रयास क‌िया था. यह लाक्षागृह बागपत में स्‍थ‌ित है.

varnavarth

पांचाल

ह‌िमालय और चंबा नदी के मध्य के क्षेत्रों में बसा था पांचाल राज्य. महाभारत में ज‌िक्र आया है ‌क‌ि पांचाल नरेश द्रुपद की पुत्री द्रौपदी से पांडवों का व‌िवाह हुआ था.


panchal


Read : रामायण के जामवंत और महाभारत के कृष्ण के बीच क्यों हुआ युद्ध


इंद्रप्रस्‍थ और खांडवप्रस्‍थ

महाभारत में ज‌िस इंद्रप्रस्‍थ और खांडवप्रस्‍थ का ज‌िक्र क‌िया है वह वर्तमान में भारत राजधानी द‌िल्ली है.


indraprastha


वृंदावन

महाभारत काल का वृंदावन आज भी इसी नाम से जाना जाता है. वर्तमान में यह उत्तर प्रदेश में स्‍थ‌ित है. यहां श्रीकृष्‍ण रास रचाया था.

vrindavan


Read : महाभारत में धर्मराज युधिष्ठिर ने एक नहीं बल्कि कहे थे 15 असत्य


भागलपुर

ब‌िहार का भागलपुर और उत्तर प्रदेश के गोंडा को लेकर यह मतभेद है. उन द‌िनों यह अंग प्रदेश था जहां के राजा कर्ण थे.


bhagalpur


मथुरा

महाभारत में कंश की नगरी मथुरा का ज‌िक्र क‌िया गया है. यहीं पर भगवान श्री कृष्‍ण का जन्म हुआ था.  उनके जन्मभूम‌ि में आज भी श्रद्धालु दर्शन के ल‌िए आते हैं…Next


mathura


Read more

महाभारत में शकुनि के अलावा थे एक और मामा, दुर्योधन को दिया था ये वरदान

आज भी मृत्यु के लिए भटक रहा है महाभारत का एक योद्धा

क्यों चुना गया कुरुक्षेत्र की भूमि को महाभारत युद्ध के लिए



Tags:                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

aghori babaji के द्वारा
November 17, 2017

#खुदा_ने_चाहा_तो_आपका_प्यार_टूटने_नही_दूंगा call me +91-7374075159 स्पेस्लिस्ट- लव मैरिज ,वशीकरण, सौतन दुस्मन छुटकारा ,पति पत्नी अनबन गृहक्लेश ,कर्जा मुक्ति ,लॉटरी नंबर ,निःसंतान, एक बार फ़ोन जरूर करे ( धन्यबाद ) whatsapp+91-7374075159


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran