blogid : 19157 postid : 1301364

चाणक्य नीति : यदि आप भी हैं इन 4 पुरुषों में शामिल तो कभी नहीं होगी ये इच्छाएं पूरी

Posted On: 22 Dec, 2016 Religious में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

अगर आप किसी से पूछें कि उन्हें गुस्सा क्यों आता है? तो शायद वो इस बात का सटीक जवाब न दे सकें. गुस्सा आने का सबका एक अलग कारण हो सकता है. लेकिन गुस्सा आने की सबसे बड़ी वजह होती है, इच्छाओं का पूरा नहीं होना. इस दुनिया में ऐसा एक भी इंसान नहीं है जिसकी सारी इच्छाएं पूरी हुई हो. लेकिन फिर भी हमें उम्मीद रहती है कि जीवन में कभी न कभी हमारी अधूरी इच्छाएं जरूर पूरी होगी. इन सभी बातों से परे आचार्य चाणक्य के अनुसार ऐसे 4 पुरूष हैं, जिनकी कुछ इच्छाएं कभी पूरी नहीं हो सकती.


chanakya


नशे के आदी पुरुष  की धन की इच्छा

यदि कोई पुरुष नशे का आदी है या बुरी आदतों का शिकार है और वो ये इच्छा करे कि उसके पास बहुत सारा धन रहे, तो यह इच्छा कभी पूरी नहीं हो सकती है. ऐसे लोगों के पास चाहे कितनी भी दौलत क्यों न हो, वो एक दिन नशे में सबकुछ लुटा देते हैं.


wine


पत्नी को धोखा देने वाले पुरुष को कभी नहीं मिलता प्रेम

व्यभिचार को शास्त्रों में भयंकर पाप माना गया है, यदि कोई पुरुष अपनी पत्नी के प्रति वफादार नहीं है और अन्य स्त्रियों के साथ अवैध संबंध रखता है, तो उसे कभी भी सच्चा प्रेम नहीं मिल सकता. उनके जीवन में एक न एक दिन ऐसा आएगा जब वो दैहिक तृष्णा से तृप्त हो चुके होंगे, लेकिन जब उन्हें प्रेम और परवाह की जरूरत होगी तो उन्हें उसकी प्राप्ति कभी नहीं मिलेगी.


150371545


सेवक को कभी नहीं मिलता सुख

अगर आप अपनी इच्छाओं या आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए किसी के यहां नौकरी करते हैं या किसी के सेवक हैं, तो जिंदगी में कभी भी आपको सुख नहीं मिल सकता.

Waiter holding empty silver tray isolated on white background


लालची को नहीं मिलती प्रसिद्धि

अगर आप स्वभाव से लालची हैं या हर काम करने से पहले धन के बारे में सोचते हैं, तो कभी भी आपको लोकप्रियता नहीं मिल सकती है. ऐसे लोग कभी भी नाम नहीं कमा सकते, क्योंकि नाम, काम से बनते हैं…Next


Read More :

चाणक्य नीति के अनुसार इन चार कार्यों के बाद स्नान करने से मिलती है लम्बी आयु

चाणक्य नीति : इन 4 रहस्यों को जानकर संसार की किसी भी चीज को पा सकते हैं आप

किसी भी स्त्री-पुरूष को परखने के लिए पढ़े चाणक्य की ये 4 बातें



Tags:                     

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran