blogid : 19157 postid : 1260367

गरूड़पुराण : पति से प्रेम करने वाली स्त्रियां भूल से भी न करें ये 4 काम

Posted On: 22 Sep, 2016 Religious में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

कहते हैं कि प्रेम की कोई व्याख्या नहीं होती. प्रेम हर तरह के बंधनों से मुक्त होता है. जिसने भी प्रेम को दायरों में बांधने की कोशिश की है, उसने हमेशा प्रेम को खोया ही है, लेकिन गरूड़पुराण में स्त्रियों को प्रेम से जुड़ी हुई कई बातों का पालन करने को कहा गया है. इसके अनुसार स्त्रियों को प्रेम को बनाए रखने के लिए इन बातों को स्वयं में उतारना चाहिए. इसके अतिरिक्त ऐसी 4 बातें भी बताई गई हैं जो किसी भी स्त्री के लिए वर्जित है.


garun cover pic


पति से या प्रेमी से अधिक दिन तक नहीं रहना चाहिए दूर

शास्त्रों के अनुसार किसी स्त्री को अपने पति से बहुत अधिक समय तक दूर नहीं रहना चाहिए. जीवनसाथी से विरह स्त्री को मानसिक रूप से कमजोर कर सकता है. पति से दूर रहने वाली महिला को समाज में कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है. साथ ही जिस स्त्री का प्रेमी हो, उसे अपने प्रेमी से बातचीत करते रहना चाहिए वरना प्रेमी का मन भटक सकता है.


marriage 3


बुरे चरित्र के लोगों से न करें मित्रता

स्त्रियों को इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि बुरे चरित्र वाले लोगों से दूर ही रहें. गलत आचरण के लोगों की संगत से कभी भी संकट की स्थिति निर्मित हो सकती है. जिन लोगों की सोच गलत होती है, वे दूसरों को नुकसान पहुंचाने में थोड़ा सा भी विचार नहीं करते हैं. बुरे चरित्र के लोगों के साथ रहने से कभी न कभी आप में भी बुरी आदतें आ सकती हैं.


puran



अपनों का तिरस्कार न करें

कभी-कभी अपनों की काफी बातें हमें खासकर स्त्रियों को बुरी लग सकती है. ऐसे में खुद पर काबू रखकर मन को शांत करने का प्रयास करना चाहिए. घर-परिवार के लोगों की उपेक्षा नहीं करनी चाहिए. किसी भी परिस्थिति में घर के लोगों का अपमान न करें अन्यथा कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.


puran 3


पराए घर में न ठहरें अधिक दिन

स्त्रियों को किसी भी परिस्थिति में पराए घर में रुकना नहीं चाहिए. इस बात की अनदेखी करने पर भयंकर परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. पराए घर में रहने वाली स्त्री को घर-परिवार और समाज में भी गलत नजर से देखा जाता है. कोशिश करनी चाहिए कि यदि विपरीत परिस्थियों में दूसरों के घर रहना ही पड़े तो अधिक दिन नहीं रूकना चाहिए…Next


Read More :

चाणक्य नीति के अनुसार इन चार परिस्थियों का सामना नहीं बल्कि इनसे भागना उचित

चाणक्य की ये पाँच बातें घर लेते समय रखें याद

चाणक्य नीति : इस कारण से नहीं करना चाहिए सुंदर स्त्री से विवाह, जानें ऐसी 4 बातें



Tags:                   

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran