blogid : 19157 postid : 1189459

महाभारत में द्रौपदी ने श्रीकृष्ण की पत्नी को बताई थी ये 7 बातें

Posted On: 14 Jun, 2016 Religious में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

कहते हैं एक औरत को औरत से बेहतर कोई नहीं समझ सकता. ऐसी केवल कहावत नहीं बनी है बल्कि पौराणिक कहानियों में भी इस बात का प्रमाण मिलता है. ऐसी ही एक कहानी महाभारत में वर्णित है जिसमें द्रौपदी ने श्रीकृष्ण की पत्नी सत्यभामा को स्त्रियों के बारे में ऐसी बातें बताई है जिनसे स्त्रियां स्वयं और अपने साथ जुड़े दूसरे लोगों को खुश रख सकती हैं. साथ ही विवाहित स्त्रियों के लिए कुछ कामों को वर्जित भी बताया है.



draupadi and satyabhama



1. पति को वश में करने की कोशिश नहीं करनी चाहिए. कुछ स्त्रियां पति को वश में करने के लिए तंत्र-मंत्र, औषधि आदि का उपयोग करती हैं, जो कि नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसा प्रेम कभी स्थायी नहीं रहता.

2. जो समझदार स्त्री होती है, वह अपने परिवार के सभी रिश्तों की पूरी जानकारी रखती हैं, क्योंकि एक भी रिश्ता भूल गए तो वह रिश्ता पारिवारिक सम्बन्ध बिगाड़ सकता है.

3. सुखी वैवाहिक जीवन के लिए स्त्री को बुरे चरित्र वाली स्त्रियों से दूर ही रहना चाहिए. गलत आचरण वाली स्त्रियों से मित्रता नहीं करनी चाहिए.

4. स्त्री को कभी भी ऐसी कोई बात नहीं कहनी चाहिए, जिससे किसी का अपमान होता है.



krishna


5. किसी भी काम के लिए आलस नहीं करना चाहिए. जो भी काम हो, उसे बिना समय व्यर्थ किए पूरा कर लेना चाहिए. ऐसा करने पर पति और पत्नी के बीच प्रेम बना रहता है.

6. द्रोपदी सत्यभामा से कहती हैं कि स्त्री को बार-बार दरवाजे पर या खिड़की पर खड़े नहीं रहना चाहिए. ऐसा करने वाली स्त्रियों की छवि समाज में खराब होती है.

7. स्त्री को क्रोध पर नियंत्रण रखना चाहिए. क्रोध के कारण बड़ी-बड़ी परेशानियां उत्पन्न हो जाती है. साथ ही पराए लोगों से व्यर्थ बात नहीं करनी चाहिए…Next


draupadi and pandav


Read more

महाभारत की इस कहानी अनुसार ऐसे शुरू हुआ था श्राद्ध पूजन

महाभारत में इन 5 योद्धाओं को छल से पराजित किया था श्रीकृष्ण ने

आज भी मृत्यु के लिए भटक रहा है महाभारत का एक योद्धा



Tags:                           

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran